कोरोना काल में किसानों को राहत दे रही है ये भारत सर्कार की योजना ,ऐसे कराये अपना रजिस्ट्रेशन। और पाए २००० रूपए की क़िस्त तीन महीनों तक।

PM KISAN SAMMAN NIDHI YOJANA ME APNA NAME KAISE JORE .

अगर आपने अभी तक PM SAMMAN NIDHI YOJANA में आपना नाम नहीं जोड़े तो अभी जोरिये। इस लिए आपको करना बस आप अपने नजदीकी CSC (कॉमन सर्विस सेंटर ) जाना है।

या नहीं तो खुद भी रजिस्टर कर सकते है। आपको जाना है , www.pmkisan.gov.in पर और यहाँ आपको दिए गए निर्देश को फॉलो करते आगे सभी जरूरी जानकारी भरना है। इसके आपके पास आधार कार्ड हिना बहुत जरूरी है। साथ ही बैंक पासबुक भी। आपसे खाता खेसरा भी मांगा जायेगा।

योजना के लिए ये है विशेष वेबसाइट pmkisan.gov.in

दरसल ये सरकार की एक विशेष योजना है ,इस के लिए सरकार ने एक विशेष वेबसाइट की शुरुआत की है। इस वेबसाइट पर योजन से जूरी सारी जानकारी इस वेबसाइट पर उपलब्ध है। इस वेबसाइट का एड्रेस है www.pmkisan.gov.in जब आप इस वेबसाइट पर लॉगिन करेंगे तो तो आपको कई अलग अलग सेक्शन दिखाई देंगे। सबसे पहला सेक्शन होम है।

उसके बाद अबाउट द स्कीम ,गाइड लाइन अदि दिखाइए देगी। इसी लाइन में आपको farmer corner दिखेगा। इस पर जाने के बाद आपको new farmer registration पर जाके रजिस्टर करना है। उस के बाद आधार कार्ड से खुद को रजिस्टर करना होगा। और बैंक अकाउंट जो की आधार कार्ड से लिंक हो उसका बैंक अकाउंट नंबर ,IFSC CODE डालना होगा। सफल रजिस्ट्रेशन के आप का आबेदन पंचायत सत्तर पर जांच के लिए जायेगे।

आप आवेदन की स्थिति भी जान सकते है। बस आपको अपना रेगिस्ट्रकशन नो डालना हैं। जिस आप पता कर सकते की आप पैसा कब कब आया।

क्या है PM KISAN SAMAN NIDHI YOJANA

PM किसान सामान निधि योजना ये पूर्णतः केंद्र सरकार की योजना है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार वर्ष में ६००० की आर्थिक मदद करती है किसानो को। लेकिन अभी कोरोना के लिए ये राहत अब २००० रुपया पर तीन महीना पर मिलेगा। ये सिर्फ एक तिमाही के किये २००० बाकि आगे जिअसे पहले मिलता था। उसे तरह की मिलेगा जैसे की पहले मिलता था। रवि फसल के नुकसान एबं बिन मौसम बारिश अदि से ये योजना किसानो को राहत पहुँचियेगी। ये योजना तहत परिवार के मुखिया को ही रजिस्टर करना है। जिस में उन सभी गरीब किसानो को बहुत राहत पहुँचियेगी।

Join the Conversation

1 Comment

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *